खबरें बिहार

उम्मीदवारों से आग्रह हैं कि वो समाज को जोड़ने में अपनी भूमिका निभाएं ना कि बिरादरी को विखंडित करने में: अजय नारायण सिन्हा

मुजफ्फरपुर (जनमन भारत संवाददाता)। चित्रगुप्त एसोसिएशन प्रांगण में प्रेस कॉन्फ्रेंस आयोजित किया गया। इसका आयोजन प्रशासन के द्वारा मतपत्र पेटी को सील करने के संबंध में था।
प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए महामंत्री अजय नारायण सिन्हा ने कहा की बीते 8 मई 2022 को निर्वाचन हेतु मतदान शांतिपूर्ण और सद्भावनापूर्ण वातावरण में सम्पन्न हुआ था। चित्रांश समाज के लोगों ने परिवार सहित बड़े उत्साह के साथ मतदान में हिस्सा लिया। जिसके उपरांत पैनल 2 के उम्मीदवार 8 मई के रात्रि से लेकर 9 मई के सुबह मतगणना प्रारम्भ होने तक मतपत्र जिस कक्ष में रखा गया था। उस कक्ष के सीलबंद दरवाजे के बाहर पहरा दिया गया। इसके बाद दिनांक 9 मई 22 को मतगणना की प्रक्रिया शुरू हुई।
मतगणना का कार्य पुलिस प्रशासन एवं जिला प्रशासन के द्वारा नियुक्त किये गए। मजिस्ट्रेट की निगरानी में शांतिपूर्ण रूप से सम्पन्न हुआ। दो दिवसीय मतगणना के उपरांत 11 मई 2022 को प्रातः 4 बजे सभी पैनल के उम्मीदवारों के समक्ष निर्वाचन पदाधिकारी त्रिलोकी प्रसाद वर्मा के द्वारा परिणाम की घोषणा की गई एवं उसी दिन संध्या को निर्वाचन पदाधिकारी के द्वारा विजयी सदस्यों को प्रमाणपत्र वितरित किया गया।
प्रमाण पत्र मिलने के उपरांत नवगठित कार्यकारिणी की प्रथम बैठक  आयोजित की गई।
मतगणना के पूरे समय सभी उम्मीदवार उपस्थित थे। जिसमे से किसी ने भी मतगणना पर उंगली उठाते हुए पुनः मतगणना की मांग नही की। विजयी प्रत्याशियों एवं अन्य प्रत्याशियों में मत का अंतर 400 से 805 तक का रहा। इसके 2 दिनों के बाद हारे हुए कुछ उम्मीदवारों द्वारा जिला प्रशासन के समक्ष शिकायत की गई। दिनांक 13 मई 22 को शिकायत का संज्ञान लेते हुए अंचलाधिकारी मुशहरी एवं काजी मुहम्मदपुर थाना अध्यक्ष के द्वारा सभी मतपत्रों को एक कमरे में रखकर सील किया गया।
 निर्वाचन पदाधिकारी से कोई शिकायत नही कर, प्रशासन के समक्ष शिकायत करना अत्यंत निंदनीय है। ऐसे कृत्य करने वाले उम्मीदवारों से आग्रह करते हैं कि वो समाज को जोड़ने में अपनी भूमिका निभाएं ना कि बिरादरी को विखंडित करने में।
इस आशय की जानकारी देते हुए राकेश सम्राट ने बताया कि प्रेस कॉन्फ्रेंस में मुख्यरूप से अध्यक्ष राजकुमार, संगठन मंत्री प्रोफेसर अजय कुमार श्रीवास्तव, कोषाध्यक्ष विजय कुमार, सत्येन्द्र कुमार पिंकू, राकेश चंद्र सम्राट, उदय नारायण सिन्हा, पंकज प्रकाश, अमित प्रकाश, चक्रधर सिन्हा, चिरंजीव कुमार अन्नू, कुमुद प्रसाद सिन्हा, सतीश कुमार कर्ण, राजेश कुमार सिन्हा, रजनीश कुमार अम्बष्ठ, हरेश्वर नाथ श्रीवास्तव, तरुण कुमार, पुरुषोत्तम वर्मा, विश्वनाथ प्रसाद, राज सिन्हा, वरुण कुमार आदि मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.