खबरें बिहार

अगर व्यक्ति का धन खो जाए, तो पाया जा सकता है। लेकिन चरित्र खोने पर व्यक्ति अपना सबकुछ खो देता है: डॉ. अरुण शाह

मुजफ्फरपुर (वरुण कुमार)। वनवासी कल्याण आश्रम द्वारा आचार्य प्रशिक्षण वर्ग की शुरुआत हुई, जो कि 21 जून से 23 जून तक चलेगी। बैठक की अध्यक्षता महानगर के अध्यक्ष रमेश केजरीवाल एवं संचालन महामंत्री राकेश सम्राट ने किया। इस अवसर पर मुख्य अतिथि भगवान लाल सहनी ने कहा की चरित्र निर्माण और नैतिक शिक्षा सभी लोगों के लिए आवश्यक है जिसके लिए शिक्षको को ध्यान देने की आवश्यकता है। प्रख्यात चिकित्सक डॉ अरुण शाह ने कहा की अगर व्यक्ति का धन खो जाए, तो पाया जा सकता है। लेकिन चरित्र खोने पर व्यक्ति अपना सबकुछ खो देता है।
प्रांत शिक्षा प्रमुख सुभाष चंद्र दुबे ने मातृभाषा में पढ़ाई करवाने पर जोर देते हुए कहा कि मैकाले के पढ़ाई पद्धति से देश का विकास संभव नहीं है, एक समय में भारतवर्ष में 7 लाख 32 हजार गुरुकुल चलते थे और नालंदा जैसे विश्वविद्यालय थे जिसके कारण भारत विश्वगुरु था, उन्होंने कहा कि हर गांवों में गौशाला, यज्ञशाला, व्यायामशाला और पाठशाला होना बहुत जरूरी है।
इस अवसर पर मुख्यरूप से संगठन मंत्री नीतीश सिंह, प्रांतीय मंत्री आलोक कुमार, प्रांतीय कोषाध्यक्ष श्याम भरतीया, महानगर अध्यक्ष रमेश केजरीवाल, महामंत्री राकेश सम्राट, मंत्री पंकज प्रकाश, उर्मिला बंका  आदि उपस्थित थे। धन्यवाद ज्ञापन पंकज प्रकाश ने किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *