खबरें बिहार

तिरंगा यात्रा के माध्यम से राष्ट्रवाद की परिभाषा आम जन तक पहुंचाएंगे: डॉ. विश्वकर्मा

मुजफ्फरपुर (जनमन भारत संवाददाता)। आम आदमी पार्टी के बिहार प्रदेश प्रवक्ता डॉ.हेम नारायण विश्वकर्मा ने बिहार में हो रहे हैं 26 नवंबर 2021 को तिरंगा यात्रा के संदर्भ में कहा कि भारतीय संविधान को अंगीकृत किये हुए लगभग 72 वर्ष गुजर गए लेकिन मौजूदा समय में सबसे बड़ा प्रश्न यह है कि क्या आज भी हमारा संविधान उतना ही प्रासंगिक है या फिर राजनीतिक बेड़ियों में जकड़ कर नेताओ द्वारा अपने हिसाब से प्रयोग किया जा रहा है क्योंकि आज ज्यादातर पार्टियां देशहित नही बल्कि अपने राजनीतिक  हितों की पूर्ति में लिप्त हैं। आम आदमी पार्टी का उद्वेश्य संविधान को जनता के लिए लागू करवाना है।
 देशभक्ति और राष्ट्रवाद की परिभाषा को सही मायने में परिभाषित करने तथा भारतीय संविधान की रक्षा के उद्वेश्य से ही 26 नवंबर, 2012 को संविधान दिवस के अवसर पर आम आदमी पार्टी का गठन हुआ था। डॉ.विश्वकर्मा ने कहा कि बिहार में पिछले 16 वर्षो से एनडीए के डबल इंजन की सरकार है लेकिन फिर भी बिहार, शिक्षा, स्वास्थ्य, रोजगार, कानून व्यवस्था एवं उद्योग जैसे महत्वपूर्ण क्षेत्रों में अन्य सभी राज्यों से काफी पीछे है।
 तिरंगा यात्रा के माध्यम से देशभक्ति और राष्ट्रवाद की परिभाषा को सही मायने में परिभाषित करने के साथ साथ बिहार के गांव-गांव में जाकर अरविंद केजरीवाल के दिल्ली मॉडल को बतायेगें।
 आम आदमी पार्टी का चरित्र एक सच्चे देशभक्त का है किन्तु जरूरत पड़ने पर हम राष्ट्रवादी बनने से भी पीछे नहीं हटेगें। आम आदमी पार्टी लखनऊ, आगरा, नोएडा, अयोध्या, सूरत आदि में भी तिरंगा संकल्प यात्रा का सफल आयोजन कर चुकी है।
 इस तिरंगा यात्रा के जरिए हम बिहार के लोगों को बताएंगे कि जिस तरह से आम आदमी पार्टी ने दिल्ली में विकास किया है उसी विकास के रोल मॉडल को हम बिहार में भी लाएंगे। वास्तविक सुशासन आम आदमी पार्टी बिहार में लायेगी। हमें  पूरा विश्वास है कि बिहार की आम जनता का स्नेह और प्यार हमें मिलेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.