खबरें बिहार

हमें किसी से परहेज नहीं, जो हमें सम्मान देगा हम उसका साथ देंगे: फ्रंट

–अपने को मजबूत कर, समाज के दूसरे वर्ग से बेहतर संबंध स्थापित करना हमारा लक्ष्य:फ्रंट
–नेताओं ने 25 दिसंबर को फ्रंट के महाकुंभ में साहेबगंज से बड़ी भागीदारी सुनिश्चित करने का लोगों से किया आवाहन
 मुजफ्फरपुर (जनमन भारत संवाददाता)। समाज को सशक्त व संगठित करने का संकल्प के साथ भूमिहार ब्राह्मण समाजिक फ्रंट का एक दिवसीय प्रतिनिधि सम्मेलन रविवार को क्षेत्र के बैजनाथपुर हाई स्कूल के मैदान में संपन्न हुआ। सम्मेलन की अध्यक्षता फ्रंट के प्रखंड अध्यक्ष रंजन चौधरी ने किया।
            सम्मेलन का उद्घाटन फ्रंट के प्रदेश अध्यक्ष सुरेश शर्मा व कार्यकारी अध्यक्ष अजीत कुमार ने श्री बाबू के तस्वीर पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्वलित कर संयुक्त रुप से किया। इससे पूर्व नेताओं ने साहेबगंज स्थित पूर्व केंद्रीय मंत्री नवल बाबू के मूर्ति पर माल्यार्पण कर उनके प्रति श्रद्धा सुमन अर्पित किया।
                   इस मौके पर मुख्य अतिथि के रूप में सम्मेलन को संबोधित करते हुए पूर्व मंत्री अजीत कुमार ने कहा हमारे समाज का  गौरवशाली अतीत रहा है, इसका इतिहास गवाह है। लेकिन आज कतिपय कारणों से हमारा समाज हर क्षेत्र में पिछड़ रहा है। सत्ता व  शासन में समुचित भागीदारी नहीं होने से हमारा विकास अवरुद्ध हुआ है। उन्होंने कहा कि अपनी विरासत को लौटाने के लिए अब एक मात्र रास्ता है कि हम आपस में संगठित हो। श्री कुमार ने कहा कि आज हमारे समर्थन से कुर्सी पाने वाले लोग हमें ही आंख दिखा रहे हैं। हम इसे कतई बर्दाश्त नहीं करेंगे, चाहे इसके लिए बड़ी से बड़ी चुनौती का सामना क्यों न करना पड़े। उन्होंने लोगों का आवाहन करते हुए कहा की फ्रंट का लक्ष्य है कि अपने आप को संगठित कर समाज के अन्य वर्गों से बेहतर संबंध स्थापित करना। हमें इस पर मजबूती से काम करना होगा। उन्होंने युवा वर्ग से समाज की मजबूती व बेहतरी के लिए आगे आने का आह्वान किया।
              इस अवसर पर अपने उद्घाटन भाषण में फ्रंट के प्रदेश अध्यक्ष सुरेश शर्मा ने  कहा कि आज हमारे समाज में आयी गिरावट का मुख्य वजह  नौजवानों में व्याप्त बेरोजगारी व बेकारी है। हमें इन दोनों चीजों से उबरने के लिए स्वरोजगार की ओर कदम बढ़ाना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि आज भी हमारे पास जमीन उपलब्ध है । ऐसे में  कृषि पर आधारित  उद्योग लगाकर हम आर्थिक रूप से मजबूत होकर दूसरे को रोजगार उपलब्ध करा सकते हैं। उन्होंने नौजवानों से कहा कि आप नशा छोड़ स्वस्थ समाज के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। उन्होंने आगे कहा कि अब हम मजबूर नहीं हैं , जो भी हमें राजनैतिक रूप से मजबूर समझता है वह धोखे में है। समय आ गया है कि अब हम अपनी एकजुटता कायम कर सत्ता व शासन में समुचित भागीदारी लेगें। उन्होंने 25 दिसंबर को मुजफ्फरपुर में होने वाले समाज के महाकुंभ में साहेबगंज से बड़ी भागीदारी सुनिश्चित करने का भी लोगों से अपील किया।
       इस अवसर पर सम्मेलन को संबोधित करते हुए फ्रंट के कोषाध्यक्ष पीएन सिंह आजाद ने कहा की फ्रंट की ताकत दिनों दिन बढ़ रहा है । आज जरूरत है कि हम संगठित होकर इस ताकत को लक्ष्य तक पहुंचा कर अपने पूर्वजों के विरासत को पुनः स्थापित करें।
         फ्रंट के महासचिव धर्मवीर शुक्ला ने कहा कि हमारा समाज परोपकारी रहा है । बिहार के नवनिर्माण में हमारी अहम भूमिका रही है फिर भी आज हम  हाशिए पर पर हैं। इसका मुख्य वजह है आपसी बिखराव, इससे हमें समझना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि यदि आज भी आप एकजुट हो जाएं तो आप किसी से कम नहीं है। उन्होंने कहा कि हमें समाज के सभी वर्गों से अच्छा रिश्ता कायम करना है , लेकिन चौखट के बाहर।
       जिला अध्यक्ष अरुण कुमार सिंह ने कहा की फ्रंट का निर्माण हुए मात्र ढाई वर्ष हुआ हैं। लेकिन आप सबों के मेहनत के बदौलत कम ही दिनों में ही फ्रंट सबों के जुबान पर आ गया है। उन्होंने कहा कि हमारा लक्ष्य है कि समाज के एक एक लोगों को फ्रंट से जोड़ना। इस लक्ष्य को हासिल करने में आप सहयोग करें हम आपका साथ देंगे।
         इस मौके पर सम्मेलन को संबोधित करने वालों में फ्रंट के प्रदेश सचिव एलएन सिंह, कदंबिनी ठाकुर ,मुरारी शरण सिंह शशी रंजन सिंह उर्फ डब्ल्यू सिंह, उर्फ श्याम बाबू, विनय ठाकुर, गीता कुमारी, सुनील शर्मा, श्री कृष्ण, संजय कुमार सिंह, राहुल कुमार सिंह, घनश्याम कुमार, शंभू शरण ठाकुर, पप्पू सिंह, संजय ठाकुर, मुकेश ओझा, विकास कुमार पांडे, रंजन चौधरी , शंभू पांडे, रंजू कुमार सिंह, मुन्ना मिश्रा, महेश्वर तिवारी, राहुल रॉक, सुजीत कुमार ,संजय पांडे ,जवाहर ठाकुर, मिथिलेश सिंह आदि प्रमुख थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.