खबरें बिहार

सिल्क प्रदर्शनी में बढ़ी कॉटन – सिल्क कपड़ों की मांग

पटना (जनमन भारत संवाददाता)। तारामंडल में चल रहे दस दिवसीय सिल्क प्रदर्शनी में पटनाइट्स जमकर खरीददारी करते नजर आ रहे हैं । इस प्रदर्शनी में एक ओर जहां ब्राइडल कपड़ों की खरीददारी हो रही है वहीं दूसरी ओर त्योहार को देखते हुए महिलाएं सिल्क – कॉटन कपड़ों की मांग कर रही हैं। इस प्रदर्शनी में लोग सूट, साड़ियां, ज्वेलरी से लेकर सजावटों के सामान तक की शॉपिंग करते दिख रहे हैं । सिल्क इंडिया आर्ट एंड क्राफ्ट द्वारा आयोजित इस प्रदर्शनी में स्टॉल्स के माध्यम से ट्रेडिशनल से लेकर वेस्टर्न कपड़ों को लोगों तक पहुंचाया जा रहा है।

प्रदर्शनी के आयोजक मानस आचार्य ने बताया कि प्रदर्शनी में तीज, दिवाली तथा छठ को ध्यान में रखकर साड़ियां लाई गई हैं। विशेष रूप से दक्षिण भारत की प्योर सिल्क साड़ियां, बनारसी साड़ियां और भागलपुरी सिल्क साड़ियां प्रदर्शनी में मौजूद हैं साथ ही पूजा को ध्यान में रखकर आंध्रप्रदेश की मशहूर कलमकारी साड़ी भी हैं। बिहार के अलावा दक्षिण के राज्यों के मशहूर सिल्क उत्पाद में कांजीवरम, धर्मावरम की साड़ियां खूब पसंद की जा रही हैं। प्रदर्शनी में महिलाओं व लड़कियों के लिए डिजाइनर सूट की विस्तृत श्रृंखला लाई गई है। लखनवी चिकेन के अलावा भागलपुरी व बनारसी बाटिक सूट भी लड़कियों की विशेष पसंद हैं। वहीं, जयपुरी बेडशीट और कृत्रिम ज्वेलरी की भी डिमांड देखी जा रही है। प्रदर्शनी में रोजाना लाखों की बिक्री से बुनकरों में भी उत्साह है। बता दें कि सिल्क इंडिया की प्रदर्शनी लोगों के लिए निशुल्क है, इसका समापन 31 अक्टूबर को होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.