खबरें बिहार

सरला श्रीवास सोशल कल्चरल रिसर्च फाउंडेशन की ओर से संत शिरोमणि सेन जी महराज जयंती का आयोजन किया गया

मुजफ्फरपुर (जनमन भारत संवाददाता)। सरला श्रीवास सोशल कल्चरल रिसर्च फाउंडेशन की ओर से संत शिरोमणि सेन जी महराज जयंती सप्ताह के अंतर्गत  “संस्कृति संवाद” का आयोजन मालीघाट स्थित अमन चिल्ड्रेन स्कूल में सरला श्रीवास युवा मंडल के संरक्षक अजय कुमार ठाकुर के अध्यक्षता में की गई। अजय कुमार ठाकुर ने बताया कि भगवान भक्त सैन महराज नाई का कर्म करते हुए भगवान को प्राप्त करने वाले संसार के सर्वश्रेष्ठ संत शिरोमणि श्री सैन जी महाराज हुए हम सभी को उनके बताए हुए मार्ग पर चलने की जरूरत हैं।
मुख्य अतिथि साई सेवादार अविनाश कुमार ने बताया कि पुरखो को यादों के जश्न के माध्यम से याद करना फलदायी हैं।
विशिष्ट अतिथि देवी दास राकेश पांडेय ने बताया कि
संत सेन महाराज बचपन से ही विनम्र, दयालु और ईश्वर में दृढ़ विश्वास रखते थे।
सरला श्रीवास सोशल कल्चरल रिसर्च फाउंडेशन के अध्यक्ष युवा समाजसेवी धीरज कुमार ने
संत शिरोमणि सेन जी महराज के जीवन पर प्रकाश डालते हुए बताया कि सेन महाराज ने गृहस्थ जीवन के साथ-साथ भक्ति के मार्ग पर चलकर भारतीय संस्कृति के अनुरूप जनमानस को शिक्षा और उपदेश के माध्यम से एकरूपता में पिरोया।
कलाकार सुधीर ठाकुर ने बताया कि
सेन महाराज प्रत्येक जीव में ईश्वर का दर्शन करते और सत्य, अहिंसा तथा प्रेम का संदेश जीवन पर्यन्त देते रहे।
लोक गायिका अनिता कुमारी ने “हमार देशवा अंगूठी के नगीना” गीत के माध्यम से संत शिरोमणि सेन जी महराज जीवन पर प्रकाश डालते हुए बताई की
 सेन महाराज का व्यक्तित्व इतना प्रभावशाली हो गया था कि जनसमुदाय स्वतः ही उनकी ओर खिंचा चला आता था।
परफेक्ट सोलुशन सोसाईटी के सचिव अनील कुमार ठाकुर ने बताया कि किसी भी देश का विकास वहां की संस्कृति से होती है और संस्कृति का विकास लोकसंस्कृति से .हमे अपने समाज के लोकनायको से प्रेरणा लेने की जरूरत है।
संत शिरोमणि सेन जी महराज जयंती सप्ताह के अंतर्गत  “संस्कृति संवाद” में सरला श्रीवास सामाजिक सांस्कृतिक   शोध संस्थान की संरक्षक कांता देवी, सुमन कुमारी, शिवम कुमार, कन्हैया कुमार,दुर्गा कुमारी,खुशी कुमारी, रश्मि कुमारी, लक्ष्मी कुमारी , श्रृष्टि कुमारी, दक्ष राज मिश्रा ने मुख्य रूप से अपनी बाते रखी।
धन्यवाद ज्ञापन सरला श्रीवास सोशल कल्चरल रिसर्च फाउंडेशन सचिव लोक कलाकार सुनील कुमार ने दी और बताया संत शिरोमणि सेन जी महराज जयंती सप्ताह के अंतर्गत  “संस्कृति संवाद” में पुरखो को याद कर
उनसे प्रेरणा लेकर अच्छी संस्कृति को आगे बढ़ाने की जरूरत हैं देश समाज मे कुछ ऐसे मनुष्य हुए हैं जो सच्चाई के मार्ग पर चलकर देश दुनिया को हमेशा प्रेरणा देने का कार्य किए हैं ऐसे महापुरषों को याद कर आज हम सभी लोगों को  प्रेरणा लेने की जरूरत हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.