खबरें बिहार

पूर्वजों के विरासत को पुनर्स्थापित करने के लिए युवा वर्ग आगे आए : पूर्व मंत्री

–8 मई को पटना के श्रीकृष्ण मेमोरियल हॉल में आहूत फ्रंट के प्रतिनिधि मैं सम्मेलन में सकरा से बड़ी भागीदारी सुनिश्चित करने का लिया गया संकल्प
मुजफ्फरपुर (जनमन भारत संवाददाता)। सकरा प्रखंड भूमिहार ब्राह्मण समाजिक फ्रंट का एक दिवसीय प्रतिनिधि सम्मेलन गुरुवार को प्रखंड के बघनगरी मठ के सभागार में प्रखंड अध्यक्ष आशुतोष कुमार की अध्यक्षता में संपन्न हुआ ।
                                 प्रतिनिधि सम्मेलन का उद्घाटन फ्रंट के प्रदेश अध्यक्ष सुरेश शर्मा एवं कार्यकारी अध्यक्ष पूर्व मंत्री अजीत कुमार ने श्री बाबू के चित्र पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्वलित कर संयुक्त रुप से किया।  इस इस मौके पर पूर्व मंत्री अजीत कुमार ने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि भूमिहार समाज का गौरवशाली अतीत रहा है । यह समाज आजादी की लड़ाई हो, शिक्षा के लिए विद्यालय कॉलेज का स्थापना, चिकित्सा के लिए अस्पताल , कल कारखाना सहित देश प्रदेश में लगे कई उद्योगों में अपना जमीन दान कर एक मिसाल कायम किया है। लेकिन आज यह सब करने के बावजूद यह समाज हाशिए पर चला गया है । देश के सभी राजनीतिक दल इस समाज का वोट लेते है, लेकिन सामाजिक और राजनीतिक स्तर पर इस समाज का उत्थान कैसे हो इसकी किसी को कोई चिंता नहीं है । इसलिए हमारा समाज ने निर्णय लिया है कि जो दल मुझे सम्मान देगा हम उसका साथ देंगे। उन्होंने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि आप आपसी कटुता बुलाकर संगठित हो तभी आपकी खोई हुई प्रतिष्ठा वापस होगी।
                       उन्होंने लोगों से आगामी 8 मई को पटना में आहूत फ्रंट के प्रतिनिधि सम्मेलन में काँटी से बड़ी भागीदारी सुनिश्चित करने का भी अपील की है।
           इस मौके पर सम्मेलन को संबोधित करते हुए फ्रंट के अध्यक्ष पूर्व मंत्री सुरेश शर्मा ने कहा कि भूमिहार समाज का प्रतिष्ठा खेती था । जिससे हमारे लोग धीरे-धीरे छोर रहे हैं जो अच्छी बात नहीं है । हम रोजी रोजगार के लिए बाहर जाते हैं। जबकि मेरे पास जमीन उपलब्ध है हम कृषि पर आधारित उद्योग लगाकर रोजी रोजगार खोजने के बजाय दूसरे को रोजी देख सकते हैं । उन्होंने खासकर समाज के नौजवानों को संगठित होकर अपने पूर्वजों के विरासत को पुनर्स्थापित करने का अपील किया।
     सम्मेलन को प्रदेश महासचिव धरमवीर शुक्ला ने संबोधित करते हुए कहा कि हमारे समाज का अतीत रहा है कि हम समाज के सभी वर्गों से भाईचारा दोस्ती अपनापन निभाए हैं । लेकिन आज बदले हुए परिस्थिति में समाज के अन्य लोगों के साथ दोस्ती हो लेकिन चौखट के बाहर । तभी हम सबका सम्मान कायम रहेगा। उन्होंने युवा वर्ग से अपने पूर्वजों के पद चिन्हों पर चलकर समाज को सशक्त बनाने का भी अपील किया।
            सम्मेलन को  जिलाध्यक्ष अरुण कुमार सिंह, प्रदेश सचिव लक्ष्मी नारायण सिंह, पीएन सिंह आजाद , मुखिया अवधेश प्रसाद सिंह, जिला उपाध्यक्ष के के प्रशांत, महासचिव रणधीर कुमार सिंह डॉक्टर रामसेवक शर्मा, शांतनु सत्यम तिवारी, अंकेश ओझा, स्थानीय सरपंच राकेश कुमार, मुखिया ललन कुमार, पिंटू कुमार , सच्चिदानंद ठाकुर, जिला परिषद सदस्य अभिषेक कुमार ,मुसहरी के अध्यक्ष श्री कृष्ण , मृत्युंजय मिश्रा, मुन्ना सिंह, पंकज ठाकुर, पूर्व मुखिया मुनचुन कुमार, पैक्स अध्यक्ष नवीन जी, अनमोल शर्मा ,नीलाभ कुमार , शंभू मिश्रा, विजय कुमार ,रामानुजम ठाकुर आदि लोगों ने संबोधित करते हुए लोगों से आपसी द्वेष भुला कर समाज को सशक्त बनाने का अपील  किया । कार्यक्रम के अंत में बघनगरी मठ के महंत डॉ श्याम सुंदर दास जी ने अपना आशीर्वचन लोगों को दिया । धन्यवाद ज्ञापन स्थानीय सरपंच राकेश कुमार ने किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.