खबरें बिहार

जिज्ञासा समाज कल्याण केंद्र द्वारा वरिष्ठ समाजसेवी स्वर्गीय रामकरण सिंह की 22 वीं पुण्यतिथि मनाई गई

मुजफ्फरपुर। जिज्ञासा समाज कल्याण केंद्र द्वारा वरिष्ठ समाजसेवी स्वर्गीय रामकरण सिंह जी की 22 वीं पुण्यतिथि मनाई । उनके पुण्यतिथि पर सभी आगंतुकों के द्वारा उनके चित्र पर पुष्प अर्पित किया गया । जिज्ञासा समाज कल्याण केंद्र के सचिव सुमित कुमार ने कहा कि उनकी संस्था द्वारा सभी वर्ग के बच्चों के निःशुल्क प्राथमिक व उच्च शिक्षा की व्यवस्था एवं बालिकाओं व महिलाओं को प्रशिक्षित कर उन्हें, स्वावलंबी बनाये जाने को लेकर सिलाई प्रशिक्षण केंद्र खोलने पर विचार-विमर्श किया गया।


सेवानिवृत्त एडीजी सुरेंद्र प्रताप सिंह ने दिल्ली में रहते हुए वर्चुअल माध्यम से अपने पिताजी की पुण्यतिथि पर श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए कहा कि उनके बताए गए मार्गदर्शन पर चलकर पूरे जीवन को व्यतीत कर रहा हूं। उन्होंने जो सीख दी, उसके जरिए जीवन का हर फैसला लिया। शायद यही कारण है कि समाज सेवा को लेकर मेरी भावना हमेशा सकारात्मक रहती है और समय-समय पर समाज हित में कई कार्य करता रहता हूं। अभी कोरोना महामारी के कारण कई कार्यक्रमों को नहीं कर पा रहा हूं और सभी से आग्रह करता हूं कि वह कोरोना नियमों का पालन कर इस महामारी को अपने देश और विश्व से भगाएं।
सभी लोगों ने चाय पर चर्चा के उपरांत उत्तम भोजन और मिष्ठान,खीर,पूरी, सब्जी, जलेबी,गुलाबजामुन, गाजा और कुल्हड़ चाय का आनंद लिया। इस कार्यक्रम में बड़े सत्यपाल सिंह , अनिल कुमार अनल, सुमन सौरभ, अभिराज कुमार ,राम कुमार आदि लोगों की उपस्थिति और सहयोग रहा। गौरतलब है कि स्वर्गीय रामकरण सिंह सिविल मामलों की वकालत 55 साल तक की। वह पहले ऐसे अधिवक्ता थे, जो निर्विरोध बार के प्रेसिडेंट रहे। पूरे कार्यक्रम के दौरान कोरोना नियमों का पालन किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.