खबरें बिहार

मकर संक्रांति का पर्व 15 जनवरी शनिवार को मनाया जायेगा

मुजफ्फरपुर (जनमन भारत संवाददाता)। 14 जनवरी 2022 शुक्रवार को रात्रि 8 बजकर 39 मिनट के बाद भगवान भास्कर मकर राशि में प्रवेश कर जायेंगे ,इसी के साथ भगवान सूर्य उत्तरायण भी हो जायेंगे और खरमास समाप्त हो जाएगा । आचार्य सुजीत शास्त्री मिट्ठू बाबा ने बताया कि इस बार 14 जनवरी 2022 दिन शुक्रवार को रात्रि में 8 बजकर 39 मिनट से संक्रांति लग रही है ,इसलिए इसका पुण्यकाल अगले दिन यानी 15 जनवरी 2022 दिन शनिवार को मध्याह्न काल तक रहेगा ।इसी दिन मकर संक्रांति( खिचड़ी ) का मह पर्व हर्सोल्लास के साथ मनाया जाएगा । मिट्ठू बाबा ने ये भी बताया कि मकर सक्रांति के दिन पुस्तक दान ,पंचांग दान ,कम्बल दान ,वस्त्र दान ,अन्न दान ,तिल दान द्रव्य दानादि का शास्त्रों में बड़ा ही महत्व है ।आज के दिन खिचड़ी बनाकर अपने कुलदेवता को चढ़ाकर सपरिवार बन्धुओं के साथ खाने खिलाने से शनि ग्रह जन्य दोषों से निवृत्ति मिलती है और साथ ही इसके साप्ताहिक सेवन से शरीर में कांति का अनुभव मिलता है तथा उदर विकार दूर होते हैं ।इस दिन गंगा नदी के अलावे अन्य सभी नदियों और कुंडों में स्नान करने से त्वचा सम्बन्धी रोग आदि का नाश हो जाता है ।आज के दिन स्नान दान का बड़ा ही महत्व है जो हमारे शास्त्रों में वर्णित है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.